एक औघड़ लीक से बिल्कुल हटकर….

राणा अवधूत कुमार, डिप्टी ब्यूरो चीफ, आईसीएन बिहार  क्या आपने कोई ऐसा औघड़ देखा है, जो सामाजिक कुरूतियों से लड़ते हुए जनता के बीच व्याप्त अंधविश्वासों से लड़ने के लिए तत्पर रहता हो? जो कुष्ठ रोगियों की स्वयं सेवा करता हो। अहम बात कि अपने पास आने वाले भक्तों, शिष्यों व आमलोगों को जप-ध्यान करने की नहीं बल्कि इस देश की समस्याओं की ओर ध्यान देने की प्रेरणा देता हो? वाराणसी के पूर्व गंगा तट पर पड़ाव पर रहने वाले अघोरेश्वर अवधूत भगवान राम अपने अतीत व अपनी साधना में…

Read More

किशोरों की जिंदगी का सबसे खतरनाक ज़हर: “अवसाद”

डॉ संजय श्रीवास्तव आज कल प्रायः अखबारों में ,टेलीवीजन में ,सोशल साइट्स पर या अन्य खबरों में आये दिन किसी न किसी व्यक्ति के आत्महत्या द्वारा म्रत्यु की खबरे हमारे संज्ञान में आती रहती है |  इन खबरों में मरने वालो में ज्यादातर खबरे नई उम्र के नवयुवको एवं नवयुवतियो की होती है | बड़ा अजीब सा लगता है यह देख कर कि जिस उम्र में अभी तक इन बच्चो ने ,इन किशोरों ने इस जिंदगी के सफ़र को अच्छे से देखा नहीं है , समझा नहीं है और अभी उनके उपर किसी ज़िम्मेदारी का बोझ नहीं है…

Read More

किशोरों की जिंदगी का सबसे खतरनाक ज़हर: “अवसाद”

डॉ संजय श्रीवास्तव आज कल प्रायः अखबारों में ,टेलीवीजन में ,सोशल साइट्स पर या अन्य खबरों में आये दिन किसी न किसी व्यक्ति के आत्महत्या द्वारा म्रत्यु की खबरे हमारे संज्ञान में आती रहती है | इन खबरों में मरने वालो में ज्यादातर खबरे नई उम्र के नवयुवको एवं नवयुवतियो की होती है | बड़ा अजीब सा लगता है यह देख कर कि जिस उम्र में अभी तक इन बच्चो ने ,इन किशोरों ने इस जिंदगी के सफ़र को अच्छे से देखा नहीं है , समझा नहीं है और अभी उनके उपर किसी ज़िम्मेदारी का बोझ नहीं है फिर…

Read More

गौप्टा © द्वारा उत्कृष्टता – भाग 3 (अतिरिक्त समय की आवश्यकता क्यों)

डॉ. संजय कुमार अग्रवाल, सीनियर एसोसिएट एडिटर, आई.सी.एन. ग्रुप [पिछले लेख में हमने देखा कि वस्तुतः नींद और दैनिक कामों के अलावा आपके पास कितना समय बचता है। आज हम जानेंगे कि अतिरिक्त समय की आवश्यकता क्यों है।]  अतिरिक्त समय की आवश्यकता क्यों है? आप सोच रहे होंगे कि मेरा जीवन सहजता से चल रहा है; मैं समय पर अपने काम कर लेता हूँ; मैं एक दिन में 3-4 घंटे टीवी देखता हूँ; मैं अपने दोस्तों के साथ पार्टियां करता हूँ; मैं परिवार के साथ सप्ताहांत का आनंद लेता हूँ;…

Read More

ऐनस्थीसिया से पहले ऐंग्जाइटी कम करने में मदद करता है म्यूजिक

अनुसंधानकर्ताओं की मानें तो पेरिफेरल नर्व ब्लॉक प्रसीजर से पहले होने वाली ऐंग्जाइटी यानी चिंता और बेचानी को दूर करने करने के लिए दर्द निवारक दवाइयों के विकल्प के तौर पर म्यूजिक यानी संगीत का इस्तेमाल किया जा सकता है। नर्व ब्लॉक प्रसीजर से पहले आमतौर पर मरीजों को दर्द दूर करने वाली दवा के तौर पर मिडाजोलम नाम की दवा दी जाती है ताकि उनकी ऐंग्जाइटी को कम किया जा सके। हाल ही में हुई एक स्टडी में अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि नर्व ब्लॉक प्रसीजर से पहले अगर मरीजों…

Read More

रस्सी कूदने से तेजी से घटता है वजन, जानें अन्य फायदे भी

आपने बचपन में खूब रस्सी कूदी होगी। उस वक्त रस्सी कूदना महज एक खेल माना जाता था। लेकिन देखा जाए तो रस्सी कूदने से काफी वजन कम होता है। जम्पिंग रोप यानी रस्सी कूदना एक बेहतरीन कार्डियो एक्सर्साइज है। यह न सिर्फ काव्स को टोन करती है बल्कि स्टेमिना को भी सुधारती है और फेफड़ों की क्षमता में भी वृद्धि करती है। एक औसत साइज का व्यक्ति अगर रस्सी कूदता है तो इससे वह 1 मिनट में ही 10 कैलरी बर्न कर सकता है। लेकिन अगर आप सोचें कि हम…

Read More

मोटापे से हैं परेशान? खाएं बैंगन

अगर आप वजन घटाना चाहते हैं तो बैंगन खाना आज से ही शुरू कर दें. बैंगन को आमतौर पर लोग एक सामान्य सब्जी समझकर नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन आपको बता दें कि बैंगन एक लो कैलॉरी सब्जी है. 100 ग्राम बैंगन में मात्र 25 कैलोरी होती है. इसलिए अगर आप वजन घटाना चाहते हैं तो बैंगन की सब्जी, भरता या बैंगन की कोई और डिश खाना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. बहुत कम कैलॉरी 100 ग्राम बैंगन में मात्र 25 कैलॉरी होती है. बैंगन फाइबर से भरपूर…

Read More

ज़रूरत से ज्यादा ज्महाई आती है तो हो जाएं सावधान!

नींद आने पर या ज्यादा थक जाने पर जम्हाई आना आम बात है लेकिन कुछ लोगों को जरूरत से ज्यादा जम्हाई आने लगती हैं. अगर आप इन्हीं कुछ लोगों में हैं तो थोड़ा सोचने की जरूरत है. जम्हाई का कनेक्शन हमारी हेल्थ से होता है. कई बार स्वास्थ्य से संबंधित समस्या होने के चलते जम्हाई ज्यादा आने लगती है. इसलिए आइए जानते हैं कि जम्हाई किस तरह की बीमारियों का संकेत देता है.ये लीवर खराब होने के संकेत हो सकते हैं-  इस स्थिति में शरीर को बहुत ज्यादा थकावट होने…

Read More

गौप्टा © द्वारा उत्कृष्टता– भाग 2 (आपका अपना समय)

डॉ. संजय कुमार अग्रवाल, सीनियर एसोसिएट एडिटर, आई.सी.एन. ग्रुप   [पिछले लेख में हमने देखा कि समय प्रबंध का महत्त्व क्या है। आज हम जानेंगे कि वस्तुतः नींद और दैनिक कामों के अलावा आपके पास कितना समय बचता है।]  आपका अपना समय  पहचानें कि वस्तुतः नींद और दैनिक कामों के अलावा आपके पास कितना समय बचता है सफल समय प्रबंधन का मतलब यह नहीं है कि आप जिस भी काम को करना चाहते हैं, उन सभी कामों को करने के लिए आपको समय उपलब्ध हो जाये। वास्तव में इसका मतलब यह…

Read More

सहजन के फायदे

डॉ.हेमंत कुमार, सहायक संपादक-आईसीएन सहजन-दुनिआ का सबसे ताकतवर पोषण पुरक आहार है सहजन (Moringa/Drumstick Tree) 300 से अधिक रोगो मे बहुत फायदेमंद इसकी जड़ से लेकर फुल, पत्ती, फली, तना, गोन्द हर चीज़ उपयोगी होती है सहजन में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन-ए, सी और बी कॉम्पलैक्स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। एक अध्ययन के अनुसार इसमें दूध की तुलना में 4 गुना  कैल्शियम और दुगना प्रोटीन पाया जाता है। प्राकृतिक गुणों से भरपूर सहजन इतने औषधीय गुणों से भरपूर है कि इसकी फली के अचार और चटनी कई…

Read More